ALL CRIME NEWS INTERNATIONAL NEWS CURRUPTION CORONA POSITIVE NEWS SPORTS
लाइनमैन उदयवीर का कारनामा रिश्वत लेकर मीटर की सील तोड़ी
September 1, 2020 • डाटला एक्सप्रेस

(लाइनमैन ने नौ सौ रुपए की रिश्वत लेकर मीटर की सील तोड़ मीटर को किया ठीक)

 

आए दिन बिजली विभाग की भ्रष्टाचार में लिप्त होने की खबरें प्रकाश में आती रहती है जिस पर बिजली विभाग के उच्च अधिकारी हमेशा पर्दा डालते रहते हैं क्योंकि नीचे से लेकर ऊपर तक पद के हिसाब से सबको सबका मेहनताना समय से मिलता रहता है इसी कारण आज के समय में बिजली विभाग सबसे भ्रष्ट कहलाने वाला विभाग बनता जा रहा है।

 

विद्युत विभाग के भ्रष्टाचार से जुड़ा एक और कारनामा सामने आया है जिसमें साहिबाबाद डिवीजन चार राजेंद्र नगर बिजली घर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कोयल एनक्लेव बिजली घर पर तैनात लाइनमैन उदयवीर से संबंधित है जो कि पूरे क्षेत्र में अपने कारनामों को ले हमेशा लाइम लाइट में बने रहते हैं।इससे पहले आपको एक और बात से अवगत करा दे की कुछ दिन पहले 5 हजार की रिश्वत की एक ऑडियो वायरल होने और वह उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद अधिशासी अभियंता राजीव आर्य ने इसी लाइनमैन उदयवीर को कोयल एनक्लेव बिजली घर से हटा दिया था क्योंकि इसने एक उपभोक्ता को डरा धमका कर अपने अधिकारियों को देने के नाम पर पांच हजार रुपए की ठगी की थी। सारा मामला उच्च अधिकारियों के संज्ञान में होने के बावजूद इस लाइन मैन के ऊपर कोई विभागीय कार्यवाही या मुकद्दमा पंजीकृत नहीं कराया गया था केवल फॉर्मेलिटी कर इसे बिजली घर से हटा दिया गया था अपने रसूखो और अपनी हनक के जोर पर बीजेपी के सत्ताधारी नेताओं से सिफारिश करवाकर अधिशासी अभियंता राजीव आर्य ने इसे दोबारा कोयल एनक्लेव बिजली घर पर रख लिया था अभी इसे बिजली घर पर रखे हुए 2 महीने भी नहीं हुए थे कि अब इसका एक और कारनामा सामने आया है जिसमें लाइनमैन उदयवीर ने नौ सौ रुपए की रिश्वत लेकर ऐसा कारनामा कर दिखाया जिसे देख अधिकारियों की आंखें खुली की खुली रह जाएंगी।

 

 

आपको बताते चलें कि जयचंद के नाम से गली नंबर 16 मकान नंबर 521 मे अचानक मीटर के अंदर स्पार्किंग होने लगी जिसकी शिकायत करने खुद मीटर धारक जयचंद बिजली घर कोयल एनक्लेव पर पहुंचा जहा पर उपभोक्ता को लाइनमैन उदयवीर मिला और वह पूछने लगा कि आपको क्या काम है तो उन्होंने अपने मीटर में स्पार्किंग होने की शिकायत लिखने को कहा परंतु लाइनमैन बिजली घर के शिकायत वाले कक्ष में जाकर बाहर आ गया और कहने लगा की मीटर ठीक करने में नौ सौ रुपए का खर्चा लगेगा उसके बाद लाइनमैन उपभोक्ता जयचंद के साथ उसके घर गगन विहार आ गया और मीटर की सील तोड़ कर पहले तो घर पर ही ठीक करने लगा और उसके बाद मीटर उखाड़कर अपने साथ ले गया एक-दो घंटे बाद मीटर को वापस लाकर उपभोक्ता के घर पर लगा दिया 4 दिन बीत जाने के बाद जब जयचंद ने लाइनमैन उदयवीर से उन पैसों की स्लिप मांगी तो लाइन मैन कहने लगा कि यह पैसे तो मेरी मेहनत के थे जो मैंने तुम्हारे मीटर की सील खोलकर वैसे ही सील दोबारा लगाकर ठीक कर दिया था। जब उक्त मामले की शिकायत अधिशासी अभियंता राजीव आर्य से फोन पर की गई तो उन्होंने कहा की उस उपभोक्ता को एक शिकायती पत्र के साथ मेरे कार्यालय में भेज दो मैं पूरे मामले की जांच करा लेता हूं जिसके बाद उपभोक्ता जयचंद द्वारा तुरंत एक शिकायत पत्र लिख अधिशासी अभियंता राजीव आर्य और एसडीओ किशन कुमार को दीया गया जिस पर तीन दिनों के भीतर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन अधिशासी अभियंता द्वारा जयचंद को दिया गया जिसमें देखना दिलचस्प होगा कि कार्यवाही के नाम पर हवाई फायरिंग करने वाले विद्युत विभाग द्वारा इस भ्रष्‍ट लाइन मैन के विरुद्ध क्या कार्यवाही की जाती है या यह यूँ ही खुले आम क्षेत्र में लूट मचाता रहेगा।