ALL CRIME NEWS INTERNATIONAL NEWS CURRUPTION CORONA POSITIVE NEWS SPORTS
देशी शराब के ठेके पर सेल्समैन प्रवीण जैन 10 रुपए ओवर रेट लेकर बेच रहा है शराब
October 1, 2020 • डाटला एक्सप्रेस पंकज तोमर

 

गाजियाबाद:-साहिबाबाद थाना अंतर्गत आने वाली चौकी क्षेत्र के विजय पार्क पानी की टंकी के सामने मेन शालीमार गार्डन मे आबकारी विभाग ने अनुज्ञापी हरेन्द्र शर्मा वर्ष 2020-21 के नाम से देशी शराब की दुकान का ठेका दिया हुआ हुआ है।यह दुकान दिनेश नामक व्यक्ति की बताई जा रही है जिसकी अलग- अलग नामों से गाजियाबाद में कई और शराब की दुकाने है जिसमें से मेन शालीमार गार्डन मे देशी शराब की दुकान पर तैनात सेल्समैन प्रवीण जैन खुलेआम आबकारी विभाग के कायदे कानूनों को ताक पर रखकर हर क्वार्टर पर 10 रूपये ओवर रेट ले रहा है। यदि कोई व्यक्ति प्रवीन जैन को फालतू पैसे देने से मना कर दे तो वह उस व्यक्ति को शराब देने से साफ इंकार कर देता है औंर लोगों से बदतमीजी करते हुए वहां से धक्के मार कर भगा देता है। वही सेल्समैन का यह भी कहना है कि हमारे ओवर रेट के बारे में हमारी दूकान के मालिक को भी पता है जो आपको करना है कर लो देखते हैं हमारा कोई क्या बिगड़ लेगा। सेल्समैन के कहे अनुसार दुकान मालिक के संज्ञान में ओवरवेट का सारा मामला होना यह साफ जाहिर करता है की यह सारा कारनामा मालिक के इशारे पर आबकारी विभाग के अधिकारियों को ठेंगा दिखाकर और नियमों को ताक पर रखकर खेला जा रहा है।

यह कोई इकलौता ठेका नहीं है जिसमें ओवरवेट लेकर शराब को बेचा जा रहा है पूरे साहिबाबाद में ऐसे तमाम ठेके है जिनमे यह सब आसानी के साथ देखने को मिल जाएगा और इसकी पूरी जानकारी आबकारी विभाग को भी पूर्णतः है क्यूंकि अनगिनत बार कई लोगों ने इस बाबत शिकायत भी करी है लेकिन क्षेत्रीय आबकारी अधिकारी द्वारा इस ओर कोई सख्त कदम नहीं उठाया गया और हर बार यह कह कर टाल दिया गया कि एक ठेके पर काम करने वाले सेल्समैन की आखिर तनख्वाह ही क्या होती है। इसका तो मतलब यही है कि आबकारी विभाग द्वारा ही कहीं ना कहीं इस पूरे खेल पर अपना नियंत्रण रखा गया है नहीं तो किसी ठेकेदार की हिम्मत नहीं की वह 10 तो क्या 01 रू भी ओवरवेट पर शराब बेच सके। इस सम्बंध में उच्च अधिकारियों से शिकायत कर संबंधित ठेकेदार और आबकारी विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी के विरुद्ध सख्त से सख्त विभागीय कार्यवाही करने की मांग की जाएगी जिससे भविष्य में ऐसी चीजों को कोई और बढ़ावा ना दे सके।

सेल्समैन प्रवीण जैन