16 एवं 17 फरवरी को आयोजित होगा खरगौन साहित्यिक महोत्सव 2019
January 27, 2019 • Datla Express

अखिल भारतीय सर्व भाषा संस्कृति समन्वय समिति

16 एवं 17 फरवरी को आयोजित होगा खरगौन साहित्यिक महोत्सव 2019

(सांस्कृतिक एकता के सूत्र और मजबूत हों यही इस महोत्सव की मूल आत्मा है.)
-------------------------------------------------
डाटला एक्सप्रेस,रोशन कुमार 

दिल्ली: देश की अग्रणी साहित्यिक और विशुद्ध गैर-राजनैतिक संस्था अखिल भारतीय “संस्कृति समन्वय समिति” जो संविधान-प्रदत्त देश की सभी भाषाओं के उन्नयन के लिए कृत संकल्प है और अभी तक ये अपने तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन कश्मीर, बद्रीनाथ (उत्तराखंड), ग्वालियर,मुरैना भोपाल, हैदराबाद,गुवाहाटी,शिरडी महाराष्ट्र और मसूरी में सफलतापूर्वक आयोजित कर चुकी है। इन राष्ट्रीय अधिवेशनों में सुप्रसिद्ध शिक्षाविद् एवं राजनेता डॉक्टर कर्ण सिंह,दिल्ली के भूतपूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय डॉक्टर साहिब सिंह वर्मा, असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगोई, गोवा की राज्यपाल डॉक्टर मृदुला सिन्हा, त्रिपुरा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी,सुप्रसिद्ध समाज सेवी एवं सुलभ आंदोलन के जनक पद्मभूषण डॉक्टर विन्देश्वर पाठक, केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, शंकराचार्य बद्रिकाश्रम,पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, संसदीय राजभाषा समिति के अध्यक्ष डॉक्टर सत्य नारायण जटिया और पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री पद्मश्री सीपी ठाकुर समेत अनेक प्रबुध्द जनों ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति से अधिवेशनों की महत्ता को और अधिक सार्थक एवं महत्वपूर्ण बनाया है।


समिति आगामी 16-17 फरवरी 2019 को खरगौन में अपना दो दिवसीय दशम् राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित करने जा रही है। इस महती राष्ट्रीय अधिवेशन का सारस्वत उद्घाटन देश के वरिष्ठ राजनेता और अंतरराष्ट्रीय स्तर के वैज्ञानिक, लेखक, पूर्व केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री तथा वर्तमान में राज्य सभा स्टेंडिंग कमेटी के चेयरमैन संसद सदस्य पद्मश्री डॉक्टर सी. पी. ठाकुर करेंगे। इस महोत्सव के पहले सत्र में राष्ट्रीयता की अवधारणा और सामाजिक समरसता के ज्वलंत विषय पर एक विचार संगोष्ठी आयोजित की जाएगी तथा दूसरे सत्र में कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा।

महोत्सव में देश के विभिन्न प्रांतों के रचनाकार प्रतिभाग करेंगे जिसमें- पंडित सुरेश नीरव (गाजियाबाद), डॉक्टर अनिल सुलभ (पटना),डॉक्टर नीरज नैथानी (श्रीनगर, उत्तराखंड), डॉक्टर मधु चतुर्वेदी (गजरौला), डॉक्टर भुवनेश सिंघल (दिल्ली), मधु मिश्रा (गाजियाबाद), राम वरण ओझा ( ग्वालियर), पुरुषोत्तम नारायण सिंह (मुंबई), राकेश जुगरान (देहरादून), जयकृष्ण पेन्यूली (कीर्ति नगर), डॉक्टर सतीश वर्धन (पिलखुवा/हापुड़),राजेन्द्र प्रसाद मिश्र (खंडवा), डॉक्टर वीणा मित्तल (गाजियाबाद), प्रकाश प्रलय (कटनी) डॉक्टर मुकुंद भट्ट (चित्तौड़ गढ़), सत्येन वर्मा (इंदौर), गोपाल निर्झर (मंदसौर) तथा अन्य अनेक प्रतिष्ठित साहित्यकार सहभागिता करेंगे।

महोत्सव में पुरुषोत्तम नारायण सिंह द्वारा दूरदर्शन के लिए फिल्माए देशभक्ति पूर्ण 'जय इंडिया जय भारतम्' तथा वरिष्ठ हिंदी कवि पंडित सुरेश नीरव के व्यक्तित्व और कृतित्व पर आधारित दूरदर्शन के लिए बनाई गई फिल्म का प्रदर्शन किया जाएगा, साथ ही इस महोत्सव में शामिल रचनाकारों की पुस्तकों पर केन्द्रित एक पुस्तक प्रदर्शनी भी इस अवसर पर लगाई जाएगी तथा रचनाकारों को महत्वपूर्ण अलंकरणों से सम्मानित भी किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्तर के इस महत्वपूर्ण महोत्सव के संयोजक अंतर्राष्ट्रीय स्तर के विख्यात कवि एवं शिक्षाविद् डॉक्टर शंभुसिंह मनहर हैं तथा इस संस्था के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष छब्बीस से अधिक देशों में हिंदी की ध्वजा फहरानेवाले लब्ध-प्रतिष्ठ साहित्यकार एवं पत्रकार पंडित सुरेश नीरव हैं। मध्य प्रदेश के निमाड़ की तपोभूमि में आयोजित होने जा रहे इस साहित्य महोत्सव से देशभर से आए रचनाकारों के विचार मंथन से सांस्कृतिक एकता के सूत्र और मजबूत हों यही इस महोत्सव की मूल आत्मा है।16 एवं 17 फरवरी को आयोजित होगा खरगौन साहित्यिक महोत्सव 2019