साहिबाबाद में हुई 28 लाख की लूट का खुलासा,लुटेरे गिरफ़्तार:
February 9, 2019 • Datla Express

 

डाटला एक्सप्रेस
पंकज तोमर
datlaexpress@gmail.com

ग़ाज़ियाबाद: गत दिनों साहिबाबाद में प्लॉट का बयाना देने के नाम पर ग्राहक को बुलाकर प्रॉपर्टी डीलर ने अपने पांच साथियों के साथ 28 लाख रुपये लूट लिए थे। पीड़ित ने साहिबाबाद थाने में मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए शुक्रवार सुबह को नाग गेट करहेड़ा से लूट में शामिल 3 लुटेरों को गिरफ़्तार किया है। लुटेरों के पास से लूट के 4 लाख रूपये बरामद हुए हैं। लूट का मास्टरमाइंड और लूट में शामिल 4 अन्य बदमाश फ़रार हैं।

दिल्ली के नजफगढ़ निवासी ओमप्रकाश को घर के पास ऑफिस बनाना था। इसके लिए उनका सम्पर्क दो माह पहले साहिबाबाद के आराधना तिराहे के पास प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने वाले रामभूल से हुआ। रामभूल ने ओमप्रकाश को दिल्ली के नजफगढ़ में एक प्लॉट दिखाया था, जिसकी कीमत 70 लाख रुपये थी।

2 फ़रवरी की रात को उसने ओमप्रकाश को बयाना देने के लिए साहिबाबाद बुलाया। ओम प्रकाश दिल्ली निवासी अपने साथी जयवीर और सतीश के साथ कार से 28 लाख रुपये लेकर रामभूल के ऑफिस पर पहुंचे। ऑफिस में उस समय रामभूल के साथी जितेंद्र, हरीश, परवेंद्र, सतपाल, मेघनाथ, योगेश और दीपक भी मौज़ूद थे। रामभूल ने ओमप्रकाश से कहा कि प्लॉट के मालिक दिल्ली में रहते हैं वहां पर रुपये देने जाना पड़ेगा, लेकिन सारे लोग वहां नहीं जा सकते हैं।

रामभूल ने ओमप्रकाश को अपनी स्विफ्ट कार में बैठाया और दिल्ली की तरफ निकल गया। कार रामभूल का चालक चला रहा था। राजेंद्रनगर सेक्टर-3 में कार सवार पांच लोगों ने उनकी कार को ओवरटेक कर रोका और उनसे 28 लाख रुपये लूट लिए और ओमप्रकाश को धक्का देकर फ़रार हो गये। गिरफ़्तार अभियुक्त जितेंद्र पुत्र खजान सिंह,हरीश पुत्र दिनेश और परवेंद्र पुत्र जय चन्द निवासीगण बुलन्दशहर हैं। फ़रार अभियुक्तों में मास्टरमाइंड राम भूल, सतपाल, मेघनाथ, योगेश और दीपक की तलाश जारी है।

अभियुक्तों के पास से लूट के 4 लाख रूपये और लूट में प्रयुक्त स्विफ्ट कार बरामद की गयी है। लूट का मास्टरमाइंड रामभूल पहले भी दिल्ली में इस तरह की घटना को अंजाम देने में जेल जा चुका है।