ममता के गढ़ में बोले अमित शाह- दुर्गा विसर्जन बंगाल में नहीं तो क्या पाकिस्तान जाकर करें
January 23, 2019 • Datla Express

डाटला एक्सप्रेस

रोशन कुमार,22/01/2019

 

नई दिल्ली:लोकसभा चुनाव से पहले बंगाल में राजनीति अपने चरम पर पहुंच चुकी है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ममता बनर्जी के खिलाफ उन्हीं के गढ़ मालदा में काफी विवादों को बाद एक रैली को संबोधित किया। शाह ने कहा आज मैं पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव का श्री गणेश करने आया हूं। हमारा संकल्प है कि हम ममता सरकार को जड़ से उखाड़ फेकेंगे। क्योंकि ममता सरकार यहां लोकतंत्र का गला घोंट रही है।

अमित शाह ने कहा है कि 2019 का आम चुनाव भारत का भविष्य निर्धारित करने वाला चुनाव तो है ही लेकिन उसके साथ पश्चिम बंगाल के लिए भी यह चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव यह तय करेगा कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) जो बीजेपी के सभी कार्यक्रमों में रोड़े अटकती है रहेगी अथवा इसकी विदाई होगी।

ममता सरकार पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि आम चुनाव से यह तय होने वाला है कि बंगाल में हत्याएं करवाने वाली, लोकतंत्र का गला घोटने वाली, भ्रष्टाचार करने और घुसपैठ कराने वाली ममता बनर्जी की अगुवाई वाली टीएमसी की सरकार रहेगी या जाएगी। आम चुनाव बंगाल में एक बार फिर लोकतंत्र प्रस्थापित करने वाला चुनाव है।

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि राज्य की जनता ने कम्युनिस्टों को हटाकर तृणमूल को सत्ता सौंपी थी। लेकिन वर्तमान हालात देखकर बंगाल के लोग मजबूरी में कह रहे हैं कि टीएमसी से अच्छी कम्युनिस्ट सरकार ही थी। शाह ने कहा कि बंगाल में 60 से अधिक बीजेपी और अन्य पार्टियों के कार्यकर्ताओं की हत्या की जा चुकी है।

शाह ने कहा कि बीजेपी की रथयात्रा रोकने से बंगाल की जनता के दिलों में जो कमल खिला है वो खत्म नहीं होगा। हमारे कार्यकर्ता लगातार बंगाल में मेहनत कर रहे थे, अगर हमारी यात्रा निकलती तो उनकी सरकार की अंतिम यात्रा निकल जाती, इसलिए परमिशन नहीं दी गई लेकिन हम अब ज्यादा मेहनत करेंगे।

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि राज्य के लोगों ने इस वर्ष के आम चुनाव में नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि मोदी की सरकार के शासनकाल में बंगाल को यूपीए सरकार की तुलना में विकास के लिए ढाई गुना राशि दी गई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी सुभाष बाबू का सम्मान नहीं किया लेकिन नरेंद्र मोदी उनका सम्मान करने अंडमान पहुंचे।

पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा विसर्जन को लेकर पैदा हुआ विवाद पर शाह ने एकबार फिर ममता को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बंगाल में ममता ने दुर्गा विसर्जन की अनुमति नहीं दी, अगर यहां नहीं करेंगे तो क्या पाकिस्तान जाकर करेंगे।