पीएम आवास योजना का टारगेट पूरा नहीं कर पाया जीडीए
January 22, 2019 • Datla Express

डाटला एक्सप्रेस datlaexpress@gmail.com गाजियाबाद। प्रधानमंत्री आवासीय योजना में मार्च 2019 तक 13500 भवनों की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) के टारगेट को जीडीए पूरा नहीं करा पाया है। टारगेट के तहत प्राधिकरण को अब तक केवल 10755 पीएम आवास की डीपीआर फाइनल कराने में सफलता मिली है। अभी प्राइवेट छह बिल्डर्स की 2650 भवनों की डीपीआर को प्राधिकरण मंजूरी नहीं दिला स है। ऐसे में पहले साल का ही टारगेट पूरा कराने में जीडीए डाटला एक्सप्रेस datlaexpress@gmail.com गाजियाबाद। प्रधानमंत्री आवासीय योजना में मार्च 2019 तक 13500 भवनों की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) के टारगेट को जीडीए पूरा नहीं करा पाया है। टारगेट के तहत प्राधिकरण को अब तक केवल 10755 पीएम आवास की डीपीआर फाइनल कराने में सफलता मिली है। अभी प्राइवेट छह बिल्डर्स की 2650 भवनों की डीपीआर को प्राधिकरण मंजूरी नहीं दिला सकता है। ऐसे में पहले साल का ही टारगेट पूरा कराने में जीडीए com com नहीं कर पाया को मशक्कत करनी पड़ रही है। पीएम आवास का पहले साल का टारगेट पूरा करने में जीडीए प्राइवेट बिल्डर्स पर भी निर्भर है। लेकिन सात प्राइवेट बिल्डर्स में से जीडीए केवल एक बिल्डर की डीपीआर को केंद्र व प्रदेश सरकार से मंजूरी दिला सका है। प्राइवेट बिल्डर में केवल राजनगर एक्सटेंशन में एससीसी बिल्डर प्राइवेट लिमिटेड के 252 ईडब्ल्यूएस के प्रोजेक्ट को मंजूरी मिली है। इसके अलावा छह बिल्डर्स के पीएम आवास के भेजे गए प्रोजेक्ट को शासन व केंद्र की मंजूरी नहीं मिल सकी है। इनमें सिग्नेचर ग्लोबल डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड नहीं कर पाया को मशक्कत करनी पड़ रही है। पीएम आवास का पहले साल का टारगेट पूरा करने में जीडीए प्राइवेट बिल्डर्स पर भी निर्भर है। लेकिन सात प्राइवेट बिल्डर्स में से जीडीए केवल एक बिल्डर की डीपीआर को केंद्र व प्रदेश सरकार से मंजूरी दिला सका है। प्राइवेट बिल्डर में केवल राजनगर एक्सटेंशन में एससीसी बिल्डर प्राइवेट लिमिटेड के 252 ईडब्ल्यूएस के प्रोजेक्ट को मंजूरी मिली है। इसके अलावा छह बिल्डर्स के पीएम आवास के भेजे गए प्रोजेक्ट को शासन व केंद्र की मंजूरी नहीं मिल सकी है। इनमें सिग्नेचर ग्लोबल डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड जीडीए का 873 ईडब्ल्यूएस, जय अम्बे एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड का 147 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स अराध्यम बिल्डर्स के 251 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स यूरेका बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड के 290 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स एटीएस ग्रैंड रियलटर्स के 765 ईडब्ल्यूएस और मैसर्स अजनारा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 318 ईडब्ल्यूएस की डीपीआर अभी शासन में विचाराधीन है। उ ीिडीए सचिव संतोष कुमार राय ने कहा कि अभी पीएम आवास में 10755 आवास की डीपीआर स्वीकृत हो चुकी है। बाकी बचे भवनों की डीपीआर को मार्च से पहले ही मंजूरी मिल जाएगी। जीडीए का 873 ईडब्ल्यूएस, जय अम्बे एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड का 147 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स अराध्यम बिल्डर्स के 251 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स यूरेका बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड के 290 ईडब्ल्यूएस, मैसर्स एटीएस ग्रैंड रियलटर्स के 765 ईडब्ल्यूएस और मैसर्स अजनारा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 318 ईडब्ल्यूएस की डीपीआर अभी शासन में विचाराधीन है। उ ीिडीए सचिव संतोष कुमार राय ने कहा कि अभी पीएम आवास में 10755 आवास की डीपीआर स्वीकृत हो चुकी है। बाकी बचे भवनों की डीपीआर को मार्च से पहले ही मंजूरी मिल जाएगी।