जर्जर बिजली के खंभे कभी भी बन सकते हैं बड़ी दुर्घटना का कारण
January 22, 2019 • Datla Express

(लाजपत नगर बिजली घर में अधिकारी नहीं करते लोगों की समस्याओं का निवारण)

ट्रू टाइम्स रोशन कुमार राय:जनपद गाज़ियाबाद के साहिबाबाद स्थित ग्राम पसोंडा अंतर्गत गली नंबर 03 भूमिया मोहल्ला में इलैक्ट्रिक पिलर संख्या PDA-TFT-P 16 व PDA-TFT-P 17 बोहोत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त अवस्था में हैं जिनकी शिकायत कई बार क्षेत्र वासियों द्वारा लाजपत नगर बिजली घर में एरिया के जेई से की गई लेकिन उनकी कान पर कभी भी जूं नहीं रेंगती या यूं कहे कि उनके किसी के जान-माल के नुकसान से कोई फर्क नहीं पड़ता, बिजली के यह दोनों खंभे इस कदर जर्जर हो चुके है कि कोई साधारण सा व्यक्ति भी इन्हें अपने दोनों हाथों से हिला दे तो ज़रा सोचिए कि तेज़ आंधी या किसी प्रकार की टक्कर लगने पर यह खंभे क्या पल भर भी टिक पाएंगे लेकिन खम्भों की स्थिति देख कर यह लगता हैं कि शायद आंधी और टक्कर की आवश्यकता नहीं हैं यह एक ना एक दिन खुद ही गिर जाएंगे जिससे बोहोत बड़ी दुर्घटना और आग लगने जैसी स्थितियां भी उत्पन्न हो जाएगी गली नंबर 03 तो इतनी ज़्यादा संकरी हैं कि एक बाइक तक निकालने में मशक्कत करनी पड़ती हैं तो ज़रा सोचे कि आग लगने की स्थिति में दमकल की गाड़ियां कहा से आएंगी और कितनी बड़ी और कितने बड़े स्तर पर जान और माल की हानि होगी, वैसे सरकारी विभागों का इतिहास भी कुछ ऐसा ही रहा हैं कि जब तक कोई अप्रिय दुर्घटना ना हो जाए वह कोई संग्यान नहीं लेते,आखिर विभागों का यह चलन कब बदलेगा कैसे बदलेगा और कैसे कुछ ऐसे उपाय किए जाए कि शिकायतों पर तत्काल कार्यवाही कर उनका निस्तारण किया जा यह गहन विचार का विषय हैं